Breaking

Wednesday, May 20, 2020

खुश खबरी एक जून से प्रतिदिन चलेंगी 200 ट्रेने। will run 200 trains daily from 1st June 2020

अब खत्म होगी परेशानी -नॉन ऐसी श्रमिक स्पेशल ट्रेनों के सञ्चालन का रेल मंत्री ने किया एलान,अब दूर होगी मज़दूरों की परेशानी। 

Lock-down और corona से परेशान लोगो के लिए बड़ी राहत की खबर है , रेल मंत्रालय ने प्रवासी मज़दूर भइओ के लिए श्रमिक स्पेशल ट्रेन राजधानी के रुट से १५ जोड़ी ऐसी स्पेशल ट्रेनों के बाद अब हर तबके के लिए 200 नॉन ऐसी स्पेशल ट्रेन चलाने का घोसणा किया हे। जिसका संचालन १ जून से रोज़ाना किया काना तय हे। इन ट्रेनों की टिकट की बुकिंग ऑनलाइन प्लेटफॉर्म से होगा। स्टेशन नहीं के काउंटर नहीं खोले जायेंगे। इस बात की सूचना स्यम रेल मंत्री प्यूष गोयल जी ने टवीट कर के बताया है। गोयल जी ने साथ ही इस बात की भी सुचना दी हे की अगले कुछ दिनों में श्रमिक स्पेशल ट्रेनों की संख्या बढ़ा कर रोज़ाना 400 कर दी जाएगी। रेल मंत्रालय ने सर्मिक स्पेशल ट्रेनों को लेकर हो रही राजनीती को रोकने के लिए भी कमर कास ली हे। रेल मंत्रालय ने यह स्पस्ट किया हे की अब श्रमिक स्पेशल ट्रेनों के संचालन के लिए राज्य की सहमति जरुरी नहीं होगी। श्रमिक स्पेशल ट्रेन चलाने का फैसला रेल मंत्रालय गृहमंत्रालय के  साथ मिल कर करेगा। राज्यों को इसके लिए उचित बेवस्था करने की जिम्मेदारी दी गई है। मजदूरों को सहीसलामत और सुरक्षित घर पहुंचने के लिए नया एओपी ( तौर -तरीका ) जारी किया हे।  
यह सुनने में आया हे की बहुत से राज्य अपने मज़दूरों को अपने यहाँ बुलाने में आना कानि कर रहे है। ओहि कोविद-१९ महामारी से त्रस्त भुखमरी और बेरोज़गारी के दर से प्रवासी मज़दूर अपने घर जाने के लिए पैदल ही निकल पड़े है। 

कहाँ कहाँ रुकेंगी ट्रेने।

इन ट्रेनों के रुकने के स्टेशन तय करते समय यह देखा जायेगा की प्रवासी मज़दूर कहाँ -कहाँ भारी स्नाख्या में जाना जाना चाहते है।  अनुसार रुकने के स्टेशन तय किये जाएंगे , अभी तक स्पेशल ट्रेने केवल तीन ही  स्टेशन पे रुकने का प्रावधान था। जिसे सैकड़ो मज़दूरों को अपने गंतब्य स्थान से कोसो दूर ही उतरना पड़ता था। दुर्बेवस्था से बचने के लिए रेल मंत्रालय को टिकट बुकिंग से लेकर अन्य सभी मह्त्वपूण जानकारियां प्रसारित करना चाहिए।
ग़ृह सचिव अजय भल्ला के द्वारा जारी नया aop के अनुसार railway श्रमिक स्पेशल ट्रेनों की समय सारणी से लेकर उनके रुकने का स्थान की सूचि जारी करेगा। इस बारे में सभी राज्यों को बताने की जिम्मेदारी रेलवे की होगी। जिसके फलस्वरूप सभी राज्य प्रवाशी मज़दूरों के लिए समय रहते उचित बंदोबस्त कर सकेंगे। 

No comments:

Post a Comment

Shubh Krishna Janmashtami 2020 | Images-Quotes-Wishes-whatsappstatus

श्री कृष्ण जन्माष्ठमी का महत्व  Tuesday, 11 August,2020 Public holiday date: Wednesday, 12 August,2020 कृष्ण देवकी और वासुदेव  ...